Home Others किसान आंदोलन के दौरान ताबड़तोड़ खरीदे गए Tractor, जानिए किस कंपनी को...

किसान आंदोलन के दौरान ताबड़तोड़ खरीदे गए Tractor, जानिए किस कंपनी को हुआ सर्वाधिक फायदा

कोरोना (Corona) महामारी के दौरान जब देश के दूसरे तमाम सेक्टरों ने भारी गिरावट का सामना किया, वहीं ऑटोमोबाइल सेक्टर (Automobile sector) ठीक-ठाक प्रदर्शन करने में सफल रहा। बल्कि ऑटोमार्केट के कुछ सेगमेंट (Segment) तो ऐसे साबित हुए जिनकी बिक्री में चौंकाने वाली वृद्धि दर्ज की गई। किसान का साथी कहे जाने वाले ट्रैक्टर (सेगमेंट) के बारे में भी कुछ यही बात कही जा सकती है। दिसबंर-2020 में भारत में कुल 69,105 यूनिट ट्रैक्टर (Tractor) बिके थे जो कि दिसबंर-2019 के 51,004 यूनिट से 18,101 यूनिट ज्यादा थे। दूसरे शब्दों में कहा जाए तो दिसबंर-2020 में भारत में ट्रैक्टरों की बिक्री में 35.49 प्रतिशत का जबरदस्त उछाल आ गया।

Read More:   चंडीगढ़ से शुरू हुई देश की पहली हवा में उड़ने वाली टैक्सी सर्विस

यदि महीने के हिसाब से देखा जाए तो भी दिसबंर-2020 ट्रैक्टर (Tractor) निर्माता कंपनियों के लिए खासा लाभदायक साबित हुआ, क्योंकि इस दौरान नवंबर-2020 में बिके 49,313 यूनिट ट्रैक्टरों की तुलना में 40.14 फीसदी की बढ़ोतरी हुई। बाजार में ट्रैक्टरों की बढ़ी हुई मांग की वजह से जिन कंपनियों को सर्वाधिक फायदा मिला है उनमें महिंद्रा (Mahindra), स्वराज (Swaraj) और सोनालिका (Sonalika) शीर्ष पर थीं।

Read More:   Toyota War: दो देशों के बीच हुए युद्ध का नाम इस कार कंपनी के नाम पर क्यों पड़ गया?

इनमें से यदि सिर्फ महिंद्रा की बात करें तो दिसबंर-2020 में कंपनी ने 16,385 यूनिट ट्रैक्टर बेचे थे, जो कि बीते महीने बिके कुल ट्रैक्टरों का 23.71 फीसदी हिस्सा था। गौरतलब है कि 2020 के अंत में महिंद्रा ने अपनी बिल्कुल नई के2 (K2) सीरीज के ट्रैक्टरों के प्रोडक्शन के लिए तमिलनाडु वाले प्लांट में 100 करोड़ रुपए का निवेश करने की घोषणा की थी। बाजार में इस समय कंपनी के युवो (Yuvo) और जीवो (Jivo) मॉडल की डिमांड सर्वाधिक है। सूची में जानिए बाकी कंपनियों की स्थिति।

Read More:   Video: इस SUV ने बचाई लुटेरों से लड़की की जान, देखें वीडियो
क्रम ट्रैक्टर निर्माता कंपनियां दिसबंर-2020 दिसबंर-2019
1 महिंद्रा (+29%) 16,385 12,660
2 महिंद्रा स्वराज (+41%) 11,668 8,274
3 सोनालिका (+63%) 9,380 5,743
4 टैफे (+40%) 8,022 5,727
5 एसकोर्ट्स (+18%) 7,162 6,075
6 जॉन डीरे (+52%) 5,271 3,461
7 आयशर (+19%) 4,410 3,707
8 सीएनएच इंड्रस्टीयलिस्ट (+37%) 2,593 1,895
9 कुबोता (+32%) 1,049 794
10 वी.एस.टी. (-4%) 446 463
11 फोर्स मोटर (+22%) 296 243
12 कैप्टेन (+32%) 288 218
13 इंडो फार्म (-6%) 159 169
14 अन्य (+25%) 1,976 1,575
कुल (+35%) 69,105 51,004
Read More:   Rajasthan: यहां होती है Bullet की पूजा, खुद पहुंच गई थी मालिक की मौत की जगह!

 

दिलचस्प बात ये है कि दिसबंर-2020 से ही पंजाब और हरियाणा जैसे खेती प्रधान राज्यों से बड़ी तादाद में किसान नए कृषि कानूनों के विरोध में राजधानी दिल्ली की सीमा पर जमे हुए हैं। ऐसे में जानकारों का मानना है कि यदि ये किसान आंदोलन न चल रहा होता तो ट्रैक्टरों की बिक्री में और इजाफा देखने को मिल सकता था।

Most Popular